भारत में कोरोना वैक्सीन लगाने का कार्य तेजी से चल रहा है, अब इसी कड़ी में 1 अप्रैल से वह लोग भी कोरोना वैक्सीन लगवा सकेंगे जिनकी उम्र 45 साल से अधिक है. देशभर में कोरोना वैक्सीन लगाने के लिए सेंटर बनाए गए हैं, जहां पहले कोरोना वॉरियर्स, हेल्थ केयर वर्कर्स को वैक्सीन लगाई जा चुकी है. वहीं देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह, स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन समेत कई बड़े नेताओं ने भी कोरोना वैक्सीन लगवाई है. स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा किए गए एक सर्वे में दावा किया गया है कि 97 फीसदी लोग टीकाकरण से संतुष्ट हैं. खबर के मुताबिक 47 लाख से अधिक लोगों पर ये सर्वे किया गया था.

45 साल से अधिक को लगेगा कोरोना वैक्सीन

यूनियन हेल्थ सेक्रेटरी ने कहा, 1 अप्रैल से वह लोग भी कोरोना वैक्सीन लगवा सकेंगे, जिनकी उम्र 45 साल से ऊपर है. कोरोना वैक्सीन के लिए एडवांस बुकिंग cowin.gov.in पर जाकर करवा सकते हैं, और अगर यह नहीं करवाना चाहते तो आप अपने नजदीकी वक्सीनशन सेंटर पर 3 बजे के बाद जाकर साइट रजिस्ट्रेशन करवा सकते हो. साइट रजिस्ट्रेशन के लिए अपने साथ कोई एक डॉक्यूमेंट साथ ले जाएं, वैसे आधार कार्ड और वोटर आईडी कार्ड लेकर लोग पहुंचते हैं, लेकिन बैंक पासबुक, पासपोर्ट, राशन कार्ड आदि भी लेकर जा सकते हैं.

UK वेरिएंट के 807 केस

यूनियन हेल्थ सेक्रेटरी राजेश भूषण ने बताया, देश में 807 केस यूके वेरिएंट के, 47 साउथ अफ्रीका के और 1 ब्राजील वेरिएंट का सामने आया है. साथ ही उन्होंने कहा, हमने पाया है अधिकांश राज्यों में लोग क्वारंटाइन नहीं हो रहे हैं. अधिकतर लोग होम क्वारंटाइन ही होना चाहते हैं, लेकिन ये ध्यान सुनिश्चित करना होगा कि वह नियमों का पालन करते हुए क्वारंटाइन हो रहे हैं, अगर ऐसा नहीं होता तो उन्हें सरकारी क्वारंटाइन करना होगा.