नई दिल्ली, भारतीय सिनेमा में शुरू से ही देश पर बनने वाली फिल्मों को लेकर दर्शकों के बीच एक अलग ही क्रेज देखने को मिला है। चाहे आप साल 1964 में आई फिल्म हकीकत (Haqeeqat) को ही लें। इस फिल्म को भारतीय सिनेमा की पहली देश के ऊपर बनने वाली फिल्म माना जाता है। इस फिल्म के बनने के बाद भारत में कई यादगार फिल्में बनाई गई। आज भी ये सिल सिला जारी है और देश पर बनने वाली फिल्मों को आज भी दर्शकों से उतना ही प्यार मिल रहा है जितना पहले मिलता था।

देशभक्ति की भावनाओं और गर्व का कोई मापदंड तय नहीं किया जा सकता। खासकर, भारत में जिस तरह लोग राष्ट्रवाद का आह्वान करते हैं वैसा कोई और नहीं करता, और सिनेमा से बेहतर कुछ भी नहीं है जो दर्शकों के दिलों को बेहद प्यार से भर दे। दर्शकों के लिए असरदार और आश्चर्यजनक सिनेमा प्रस्तुत करने वाले निर्माता शंकर नायडू अदुसुमिल्ली (Shankar Naidu Adusumilli) अपनी आगामी फिल्म ‘भारतीयन्स’ को लेकर काफी उत्साहित हैं। स्वयं को एक गौरवशाली भारतीयन (भारतीय) कहते हुए डॉ शंकर भारत माता का पुत्र होने पर सम्मानित महसूस करते हैं।

कई अवसरों पर उन्होंने भारत के प्रति अपने अटूट प्यार को व्यक्त किया है और यह फिल्म हिंदुस्तान के लिए एक ट्रिब्यूट है। यह आने वाली हिंदी फिल्म दीना राज द्वारा लिखित और निर्देशित है और इसमें निरोज़ पुचा, सुभा रंजन, सोनम थेंडुप बरफुंगपा, समायरा संधू, पेडेन ओ नामग्याल और राजेश्वरी चक्रवर्ती सहित कई मुख्य कलाकार हैं।

फिल्म का पहला लुक 2022 की शुरुआत में जारी किया गया था, और यह देशभक्ति की भावना जगाता है। फिल्म की कहानी में सभी भावनात्मक तत्व हैं जो दर्शकों को अपने देश भारत पर गर्व महसूस कराएंगे। सूत्रों की मानें तो, ‘भारतीयन्स’ में प्यार, एक्शन, ड्रामा और देशभक्ति सबकुछ है।

डॉ. शंकर ने फिल्म के बारे में कहा, “इस फिल्म के निर्माण के पीछे प्राथमिक कारण दर्शकों को एक शक्तिशाली कहानी बताना था। फिल्म में दिखाया जाएगा कि कैसे एक साधारण व्यक्ति एक योद्धा में बदल सकता है ताकि देश की रक्षा की जा सके।” इसके अलावा, शंकर नायडू अदुसुमिल्ली ने कहा कि पड़ोसी देश चीन सबसे बड़ा खतरा है जो जमीन पर कब्जा करना चाहता है और भारत का नक्शा बदलना चाहता है।

इसके अलावा, निर्माता ने हाल ही में कोरोना वायरस महामारी पर अपना रोष जाहिर किया। वुहान लैब में वायरस के रिसाव के लिए चीन को जिम्मेदार ठहराते हुए डॉ. शंकर ने कहा कि घातक वायरस ने दुनिया भर में लाखों लोगों की जान ली है। निर्माता के गुस्से की दूसरी वजह यह है कि जून 2020 में गलवान घाटी में चीन द्वारा 20 भारतीय सैनिकों को शहीद कर दिया गया।

गहरी भावनाओं और देशभक्ति के साथ, ‘भारतीयन्स’ चीन की आक्रामकता और भारत के खिलाफ गलत कामों का सामना करने वाली पहली फिल्म होगी। डॉ. शंकर नायडू अदुसुमिल्ली के बैनर भारत अमेरिकन क्रिएशंस के तहत निर्मित यह फिल्म जल्द ही रिलीज होने वाली है।